✽ रोजाना नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ ✽

देशी भाभी की विदेशी चुदाई

0

प्रेषक :- नीशू…

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम नीशू है. और मैं कामलीला का नियमित पाठक हूँ यहाँ पर मैनें कई कहानियाँ पढ़ी है और मुझे सभी कहानियाँ बहुत अच्छी लगी मेरी भी एक आपबीती आप सभी को बताने की इच्छा हुई तो मैनें भी उसे एक कहानी का रूप देकर आप सभी के सामने पेश करने की कोशिश करी है आशा करता हूँ कि मेरी यह कोशिश आप को जरूर पसंद आयेगी आप यह कहानी कामलीला डॉट कॉम पर पढ़ रहे हो..

मैं 21 साल का लड़का हूँ, मैं अपने मम्मी और पापा के साथ रहता हूँ हमने हमारे मकान का नीचे वाला बेसमेंट का फ्लोर एक नये शादीशुदा जोड़े को किराये पर दिया था. कुछ 5 महीनें पहले मैं घर पर नहीं था अपनी कॉलेज की पढाई के सिलसिले में किसी दूसरे राज्य में रहता था

मैं अपने कॉलेज की छुट्टियों में वापस घर आया था, तब मेरी उनसे मुलाकात हुई थी जब मैनें उनको पहली बार देखा तो देखता ही रह गया भाभी बहुत ही खूबसूरत थी फिर मम्मी ने मेरा और उनका आपस में परिचय करवाया उनका नाम सिमरनजीत कौर था और उनके पति का नाम सुजीत था भाभी की उम्र 24 साल और उनके पति की उम्र 26 साल थी. फिर हमने एक दूसरे को हाय-हेल्लो किया और अपने-अपने काम में लग गये

एक बार रात के 2 बज रहे थे तो किसी अजीब आवाज से मेरी नींद टूट गई मैनें जब गौर से सुना तो वह आवाज नीचे बेसमेंट से आ रही थी फिर मैनें नीचे फर्श पर कान लगाकर सुना तो मैं एकदम चौंककर रह गया. नीचे से भाभी और उनके पति की मोनिंग करने की आवाज़ें आ रही थी, और मैनें भाभी को अपने पति से यह कहते हुए भी सुना कि तुम किसी काम के नहीं हो, तुम 5 मिनट भी नहीं रूक सकते हो. पर इसमें उस बैचारे की क्या गलती है क्योंकि भाभी है ही इतनी खूबसूरत और उनका फिगर 36-28-36 का एकदम मस्त और कातिलाना है. मेरा तो मन करता है कि उनको सामने बैठाकर अपलक निहारता रहूँ

अब मुझे उनकी बातों से यह तो पता चल ही गया था कि भाभी की सेक्स लाइफ अच्छी नहीं चल रही थी तो मैनें एक प्लान बनाया भाभी को पटाकर चोदने का और उन्हें संतुष्ट करने का सोचा. फिर अगले दिन जब उनके पति ऑफिस के लिये निकल गये तो मैं नीचे जाकर देखता हूँ कि आखिर वह क्या कर रही है, सीड़ियों से नीचे उतरते हुए मैनें सुना कि भाभी मौन कर रही है मैनें सोचा कि उनके पति तो ऑफिस चले गये तो नीचे भाभी के साथ कौन है, मैनें छुपकर देखा तो पाया कि भाभी अकेली है और उनके हाथ में एक बेलन है जिसे वह अपनी चूत में डाल रही थी और आवाज़ें निकाल रही थी. फिर मैनें सोचा कि यही सही मौका है अभी लोहा गर्म है हतौड़ा मार देना चाहिये, ऐसा मौका दुबारा नहीं मिलेगा. यह सोचकर मैनें अपना फ़ोन निकालकर उसमें एक पोर्न विडियो चला दिया जिसमें एक लड़की बहुत जोर-जोर से चिल्ला रही थी कि मुझे चोद दो और जोर से चोदो यह सुनकर भाभी ने तुरंत अपने कपड़े ठीक किये आवाज को सुनकर दरवाजे के पास आ गई, और दरवाजे के पीछे खड़ी होकर सुनने लगी और वापस अपनी सलवार में हाथ डालकर अपनी चूत को जोर-जोर मसलने लग गई. इसी बीच मैनें फ़ोन बंद कर दिया और ऊपर अपने कमरे में आ गया, मुझे पता था कि भाभी का बुरा हाल हो रहा होगा और उन्हें गुस्सा भी आ रहा होगा पर प्लान के मुताबिक यह करना बहुत जरूरी था

कुछ दिन बाद उसका पति काम के सिलसिले में शहर से बाहर गया तो मैनें सोचा कि आज तो भाभी को चोदकर ही चैन की साँस लूँगा फिर होना क्या था मैनें फ़ोन निकाला और नीचे जाने लगा मेरे मम्मी पापा भी आज तो किसी शादी में गये हुए थे. नीचे जाकर देखा तो भाभी मुझे कहीं नहीं दिखाई दी मैं उदास होकर वापस आने लग गया मुझे भाभी के फ्लोर के दरवाजे का लॉक खुलता हुआ सुनाई दिया जब मैनें दरवाजे के पास कान लगाया तो वह दरवाज़ा खुल गया और भाभी ने मुझे अंदर खींच लिया

में बता ही नहीं सकता क्या मस्त माल लग रही थी. उसने काले कलर का सूट पहन रखा था उसके बाद मैं कुछ कह नहीं सका और माफ़ी मांगने लगा कि मैं तो सिर्फ नीचे कुछ तलाश करने आया था और आपका दरवाज़ा खुलने की आवाज़ सुन कर यहाँ रूक गया, तो वो हँसने लगी.

उसने आकर मुझे दीवार पे लगाया और कहने लगी कि अच्छा बेटा, मुझे पता है तू यहाँ क्या तलाश कर रहा था मैनें कहा की ऐसा नहीं है और वो मेरे पेरेंट्स को कुछ ना बताये और माफ़ी मांगने लगा. उसने मेरे कालर पकडे और मुझे किस करने लगी, क्या मज़ा आ रहा था उसके सॉफ्ट रेड ग्लॉस लिप्स मेरे लिप्स को छू रहे थे और वो अपनी जीभ मेरे मुहँ में घुमा रही थी

वो गरम हो रही थी और मेरा भी बुरा हाल था मेरा शेर पिंजरे को तोड़ने की कोशिश में था, उसने कहा कि आज मैं तुझे बहुत ही बुरी तरह से चोदूंगी आप को तो पता ही होगा न्यूयॉर्क में लड़कियां ही लड़कों को चोदती है. फिर वो मुझे अपने कमरे में ले कर गयी और दरवाज़ा बंद कर दिया

मैं तो पागल ही हो गया फिर उसने मुझे बेड पर धक्का मार कर गिरा दिया और मेरे ऊपर बैठ गई. वो मुझसे कहने लगी की मैनें उसको बहुत तडपाया है और वो बरसो की प्यासी है. मैनें उनसे पूछा की क्या आपके पति आपको संतुष्ट नहीं करते तो उसने कहा कि वो कुछ नहीं कर सकते, उनका तो लंड ही 3 इंच का है और वो तो उसे महसूस ही नहीं कर पाती

मेरी थोड़ी हिम्मत हुई तो मैनें कहा कि एक दिन मैनें आप दोनों को सेक्स करते हुये सुना था. एक दिन आप और आपके पति एक दूसरे पर चिल्ला रहे थे. वो हँसने लगी और मेरे कॉलर को पकडे हुए मेरे पास आ गयी और कहने लगी कि अच्छा तो जनाब उनपर जासूसी कर रहे थे. मैनें कहा ऐसी बात नहीं है बस आप बहुत सेक्सी लगती हो और आपको चोदने का मन कर रहा था इसलिये

वो हँसने लगी और मुझे मेरे कान में कहा कि आज जम कर चोद डाल देखते है तुम में कितना दम है. तभी उनके पति का फ़ोन आया और वो पूछ रहे थे कि घर में सब ठीक तो है ना. और उसे कुछ चहिये तो नहीं. वो मेरी तरफ देख कर कहने लगी कि नहीं बस अब सब कुछ मिल गया है, तो और क्या चाहिया उसे. मैनें उसे एक स्माइल दी और उसकी गर्दन पर किस करनें लगा. और वो आहाह… करने लगी और उसके पति ने पूछा कि वह ठीक तो है. और उसने कहा कि वो ठीक है. मैनें उसे अपनी गोद में बैठा लिया और जगह जगह पर चूमने लगा और वो होश खोनी लगी थी, और आह्ह उफ्फ कर रही थी. उसने अपने पति से कहा कि वो आपसे फोन सेक्स करना चाहती है. और उस साले ने भी हां कर दी. और भाभी मुझे किस करनें लगी और आवाज़ निकाल रही थी… मैं उसके लिप्स को आराम से काट रहा था और वो तो बस सिसकरियां ले रही थी. और उसका पति भी कह रहा था और और… फिर मैनें उसे बेड पे लिटा दिया और उसकी चुन्नी को फाड़ दिया वो अपने पति को कह रही थी मुझे चोदोगे आज रात को. और वह कहने लगा कि हां जान बहुत जोर से चोदूंगा. मैं उसके ऊपर आया और उसको उसकी गर्दन और बोब्स पर चूमने और चूसने लगा, वो अहहाह म्मम्मम्म कर रही थी

मैनें फिर उसके एक बब्स को हाथ में लिया और चूमनें लगा. कमीज़ के ऊपर से ही और वो मेरे सिर को एक हाथ से और दूसरे से फ़ोन को पकडे हुए अहः. म्मम्म. उफ्फ्फ कर रही थी

मैंने अपनी शर्ट उतार दी और वह मेंरे सीने पर हाथ रख कर म्म्म्म कर रही थी और मुझे एक नॉटी सी स्माइल दे रही थी उधर उसका पति पागल हो रहा था  फिर उसने कहा अभी ईतना ही बाकि आज रात को और उसे बाय कह दिया वह मान गया और मैनें फ़ोन पकड़ा और तकिया और कहा साला कुछ नहीं कर सकता उसने अपना कुर्ता उतारा और उसने एक ब्लैक ब्रा पहनी थी और क्या उसके बब्स थे यार ब्रा को फाड़कर निकलने की कोशिश कर रहे थे मैनें उसकी ब्रा उतार दी और उसके बोब्स चूसने लगा करीब 20 मिनट तक ऐसे ही चूसा उसके बब्स को वह मेरे बालों में हाथ फेर रही थी फिर उसने अपनी सलवार उतारी और मैंने उसकी पेंटी

मैं उसकी चूत को मसलने लगा और किस करने लगा वह मुझे काट रही थी लगता था जैसे बिल्ली पागल हो चुकी थी और उसने कहा कि ऐसी फीलिंग उसको पहले कभी नहीं आई और उसका पति तो बस ऊपर से छेड़ता था और बस  कुछ नहीं करता था. फिर मैनें उसको बेड पे लिटाकर के उसके हर एक बॉडी के पार्ट को चूमा और काटा भी थोड़ा-थोडा सा, वह कहने लगी लव यू जान. मैनें भी कहा लव यू टू. अब बारी थी उसकी चूत की मैंने उसकी चूत के अगल बगल में  चूमा और काटा और फिर उसकी चूत को चाटने लगा, मैं उसके क्लिट के साथ बहुत खेला और वह एकदम झड़ गई अभी तो 3 मिनट भी नहीं हुए थे.

फिर बाद में मैनें उसकी चूत के अंदर ऊँगलियां डाली और खूब चाटा 15 मिनट  तक करता रहा तभी उसने कहा कि वह शेर को देखना चाहती है. मैंने कहा कि वह शेर नहीं है वह तो बहुत ही छोटा है ऐसे ही मज़ाक में. जब उसने मेरे शॉर्ट्स को उतारा तो उसकी आँखें खुली की खुली रह गई और उसका मुँह देखने लायक था. उसने कहा इतना बड़ा, मेरा लंड 8 इंच का था और उसने कहा इतना बड़ा तो उनका भी नहीं है और उसने ऐसा लंड तो इंटरनेट पर ही देखा था. मैनें कहा यह  तुम्हारा ही है जो करना है करो तो उसने कहा कि ज़रूर, इसे तो मैं खूब प्यार दूँगी और कभी नहीं छोडूंगी. उसने मेरा लंड मुँह में लिया और वह तो 1/4 ही मुहँ में जा रहा था और उसकी आँखों से पानी आने लगा

मैनें उसके सर को पकड़ा और अपना लंड उसके मुहँ में देने लगा वह छुड़ाने की कोशिश कर रही थी पर वह सब बेकार थी उसकी आँखें लाल हो गयी और पानी आने लगा था, मेरा लंड सिर्फ आधा ही गया उसके मुँह में फिर 10 मिनट के बाद जब उसने मेरे लंड को खूब चूस लिया मैनें उसकी टाँगें ली और अपने कन्धों पर रख ली वह कहने लगी कि जल्दी से चोद मुझे और सब्र नहीं होता तो मैं लंड को उसकी चूत पर रब करने लगा और उसने कहा चोद दो मुझे प्लीज तो मैनें जोर से एक धक्का मारा और वह आधा अंदर चला गया. वह तो रोने लगी और कहने लगी कि बाहर निकाल ले मुझसे ज्यादा सहा नहीं जाता बहुत बड़ा है

तो मैनें बाहर निकाल लिया और तेल लेकर आया, और उसकी चूत को और अपने  लंड पर लगा लिया. अब फिर से कोशिश करने लगा और मैनें थोड़ा सा अंदर डाला और वह अह्ह्ह….अह्ह्ह्ह्मर गई मैं….. कहने लगी. मैनें उसकी चूत में 5 मिनट  तक लंड यूँ ही बिना हिले-डुले रखा तब तक मैनें उसके होठों को चूसा और बोब्स को दबाया क्यूंकि उसने अब से पहले सिर्फ एक छोटा सा लंड लिया था. फिर थोड़ी देर बाद मैनें अपना लंड पूरा अंदर दाल दिया और वह तो चिल्लाने लगी और कहने लगी चोद डाल मुझे, चोद दे इस रंडी को जोर से … अह्ह्ह ..उफ़… अह्ह्ह्ह् ऐसे कहने लगी, वह दो बार झड चुकी थी और उसका सारा माल चूत से रिसता हुआ बेड पर फेल रहा था और कहने लगी सॉरी यार, हो गया

फिर थोड़ी देर बाद उसने मुझे एक से किस दी और कहा की थैंक यू, उसकी चूत को और उसे मज़ा देने के लिए और उसकी चूत को खोलने के लिये. मैनें उसे कहा  कि अभी तो शुरू ही किया है तो उसने मुझे एक स्माइल दी और मैनें उसे घुमा  दिया, और घोड़ी बनाकर पीछे से लंड एक ही झटके में उसकी चूत में डाल दिया, वह भी मेरा साथ देने लगी और पीछे से आकर खुद चुदवाने लगी और आवाज़  निकालने लगी, आ…..और  जोर से…. इ ..ऊऊऊह्ह्ह्,…..चोद डाल अह्ह्ह्ह्ह्,

आज से तू ही मेरा पति है. अह्ह्ह्ह्ह्ह् मर गयी अह्ह्ह्ह्ह्.. फिर मैनें उसे हेलीकाप्टर पोजीशन में चोदा और, हमने 69 पोजीशन में भी चुदाई की. फिर हम दोनों झड़ गए एक साथ और मैनें उसको पूरे 2 घंटे तक चोदा और उसको तो दिन में तारे ही दिखने लगे.

उस दिन हमने 3 और बार सेक्स किया और वह जब भी मेरे साथ सेक्स करती तो वह चल नहीं पाती क्योंकि मेरा लंड अभी भी उसके लिए थोड़ा बड़ा था. आज  भी हम कभी कभी सेक्स करते है तो वह अपने पति को हाथ नहीं लगाने देती  रोज़, क्यूंकि वह अब पूरी तरह से मेरी दीवानी हो चुकी थी

तो दोस्तों कैसी लगी आपको मेरी कहानी. मुझे कमेंट्स कर के बताना यह मेरी पहली स्टोरी है और दूसरी भी लिखूंगा जल्दी ही..

Comments are closed.

error: Content is protected !!