✽ रोजाना नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ ✽

दोस्त की शादी में पड़ोसन के मज़े

0

प्रेषक :- सुनील…

हैल्लो दोस्तों, कैसे है आप सब? आशा करता हूँ की आप सब अच्छे ही होंगे और कामलीला डॉट कॉम की कहानियों को पढ़कर खूब मज़े ले रहे होंगे। दोस्तों मेरा नाम सुनील है और उम्र 26 साल है और दिखने में मेरी बॉडी अच्छे डोले शोले, मतलब फिट बॉडी है। वैसे मैं आसाम से हूँ परन्तु अभी मैं बिहार में रहता हूँ। दोस्तों मैं कामलीला डॉट कॉम का नियमित पाठक हूँ तो मैंने भी सोचा क्यों ना मेरी भी आपबीती आप सब दोस्तों से शेयर की जाये, कहानी थोड़ी छोटी जरुर है लेकिन मज़ा बड़ा आया, यह सब इतना जल्दी हुआ की मैं कुछ समझ ही नहीं पाया। यह कहानी पिछले साल की है जब मैं अपने दोस्त की बहन की शादी में गया था और वहाँ पर मैंने पड़ोस वाली लड़की को कैसे चोदा वो मैं आपको बताता हूँ।

दोस्तों उस लड़की का नाम हीना था और उसकी उम्र 21 साल थी और उसके फिगर की साईज 34-28-34 था, उसके बूब्स बहुत ही मस्त थे और मैं पहले दिन से ही उसपर लट्टू हो गया था, मैं अपने दोस्त की बहन की शादी में 4 दिन पहले गया था शादी में अक्सर काम तो रहता ही है तो मैं उसकी मदद कर रहा था हीना का घर मेरे दोस्त के घर के बगल में ही था, तो दोस्त के घर पर वह आती जाती रहती थी। मैं उसे देखकर मन ही मन उसको चोदने के सपने देख रहा था और सोच रहा था की एक बार इसकी चूत मिल जाए तो मज़ा आ जाएगा। 2 दिन ऐसे ही बीत गये शादी के 1 दिन उसने मुझे ईशारा करके अपने पास बुलाया और मुझे एक कागज देकर चली गयी मैंने जब कागज देखा तो उसमें आई.लव.यू. और एक नम्बर लिखा था फिर मैंने झट से मोबाईल निकाला और उस नम्बर को अपने मोबाइल में सेव कर किया और फिर कॉल किया तो हीना ने ही उठाया फिर उसने व्हाट्सप में मैसेज देने को कहा मैंने व्हाट्सप चालु किया और उसे मैसेज किया फिर हम दोनों की व्हाट्सप पर बातें होने लगी। मैंने उसको परपोज किया और उसने मुझे स्वीकार कर लिया क्योंकि हीना भी मुझे पसंद करने लगी थी और मेरे साथ सेक्स करना चाहती थी।

जिस दिन शादी थी उस दिन सुबह मैंने उसे मैसेज किया की कल तो मैं चला जाऊंगा, फिर वह रिक्वेस्ट करने लगी की एक दिन और रुक जाओ प्लीज, लेकिन मेरा जाना ज़रूरी था तो हीना बोली की आज रात को मिलते है अकेले में, उसी दिन मैं अपने दोस्त के साथ बाजार गया और एक घड़ी खरीदी हीना को देने के लिए परन्तु अपने दोस्त को नहीं बताया की हीना से मुझे प्यार हो गया है। फिर मैंने उसे मैसेज किया जान तुम्हारी बहुत याद आ रही है तो वह बोली की आज रात जाने से पहले आज मैं तुम्हें एक स्पेशल चीज़ गिफ्ट दूँगी जिसको तुम कभी भूल नहीं पाओगे, मैं रात होने का इंतजार करने लगा। रात हुई बारात भी आ गयी और हीना के घर वाले सब लोग शादी में चले गये तब हीना ने मुझे मैसेज किया की घर के बगल में आ जाओ और मैं वहाँ पर पहुँच गया तो हीना पहले से ही वहीं पर थी फिर हीना मेरे को साथ लेकर अपने कमरे में चली आई और गेट को बंद कर दिया और उसने मेरी शर्ट खोल दी और मुझे पकडकर के किस करने लगी और मैं भी उसका साथ देने लगा। हीना लाल टी-शर्ट और काले कलर की जीन्स पहने हुई थी। मैंने उसकी टी-शर्ट को उतार दिया और किस करते करते मैं उसके बूब्स को दबाने लगा और उसने काले कलर कलर की ब्रा भी पहनी हुए थी मैंने ब्रा को भी खोलकर के बेड पर रख दिया और मैं किस भी करता रहा फिर उसके बूब्स को किस किया और दबाने लगा, फिर एक ही झटके में मैंने उसकी जीन्स और पेंटी दोनों को खोल दिया और उसकी गांड को सहलाने लगा थोड़ी देर बाद मैंने उसे बेड पर सुला दिया और उसकी दोनों टांगों को फैलाकर उसकी चूत को चूसने लगा उसकी चूत पर छोटे छोटे बाल थे और उसकी चूत को चूसने में मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था जिससे हिना सिसकारियाँ ले रही थी। थोड़ी देर चाटने के बाद मैंने अपनी पेंट उतारी और उसकी चूत पर अपना लंड रखकर के एक झटका दिया तो आधा लंड उसकी चूत में घुस गया। पहले से ही उसकी सील टूटी हुई थी फिर भी दर्द हो रहा था क्योंकि लंड की साईज़ बड़ी थी। मैं उसे किस करता रहा और फिर एक झटका दिया और पूरा लंड उसकी चूत में घुस गया, और उसकी चींख निकल गई हुई माँ मर गई फिर थोड़ी देर बाद उसका दर्द कुछ कम हुआ तो मैंने लंड को आगे पीछे करना शुरू किया। दोस्तों यह कहानी आप कामलीला डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

हीना धीरे धीरे सिसकियां ले रही थी और चुदाई के मज़े ले रही थी और पोर्न स्टार की तरह आवाजें निकाल रही थी यह सुनकर मुझे बहुत जोश आ रहा था और मैं ज़ोर ज़ोर से झटके दे रहा था कुछ देर चोदने के बाद मैंने हीना को डॉगी पोज़िशन में करके चोदना शुरु किया और उसके बूब्स को भी दबाता रहा।  मैं झड़ने वाला था तो मैंने अपना लंड निकालकर हीना की गांड के ऊपर झाड़  दिया। फिर मैंने हीना को बोला की मेरे लंड को तैयार करो तो उसने बिना बोले मेरे लंड को सहलाना शुरु कर दिया और हाथ में लेकर हिलाने लगी और 10 मिनट के बाद मेरा लंड फिर से तैयार हो गया चोदने के लिए। मैंने उसके कान में उसकी गांड चोदने के लिए कहा, पहले तो वह नखरे कर रही थी फिर तैयार हो गयी। दोस्तों मुझे गांड मारने में बहुत मज़ा आता था तो मैंने उसकी दोनों टांगों को अपने कंधे पर रखा और उसकी गांड में अपना लंड घुसाना चाहा परन्तु घुसा ही नहीं। फिर मैंने उससे बॉडीलोशन माँगा और थोडा अपने लंड पर लगाया और थोडा उसकी गांड के होल पर लगाया और फिर मैंने अपने लंड को उसकी गांड के होल पर रखकर दबाया तो थोडा ही घुसा था और उसने अपनी गांड को हटा लिया दर्द के कारण, फिर मैंने उसे बताया की थोडी देर दर्द होगा और फिर मज़ा भी बहुत आएगा तब वह मान गई। फिर मैंने उसकी गांड को हाथ से पकडा और लंड को ज़ोर से घुसाया मेरा आधा लंड उसकी गांड में चला गया वो दर्द के कारण तड़पने लगी और लंड निकालने के लिए बोल रही थी परन्तु मैंने उसकी गांड के दर्द को कम करने के लिए थोडी देर इंतजार किया फिर जब दर्द कम हुआ तो मैं अपने लंड को धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा और हीना अपनी गांड हिला हिलाकर मज़े ले रही थी। फिर हीना को बिना बोले ही मैंने एक और झटका मार दिया और मेरा पूरा लंड उसकी गांड में घुस गया  एक बार फिर हीना को दर्द हुआ और लंड को निकालने के लिए बोलने लगी परन्तु मैं थोड़ी देर इंतजार करने लगा और फिर चोदने लगा।

फिर हीना अपनी गांड को हिला हिलाकर चुदवा रही थी मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, फिर मैंने उसको खड़ा करके डॉगी की पोज़िशन में किया और झटके मारने लगा और मैं उसकी गांड के अंदर ही झड़ गया। फिर हम दोनों ने अपने अपने कपड़े पहने और शादी में एन्जॉय करने चले गये।

धन्यवाद कामलीला डॉट कॉम के प्यारे पाठकों !!

Comments are closed.

error: Content is protected !!